Close

Suyog Nyati - The Birthday Boy

सबसे होशियार बंधा है ये न्याती परिवार का,
एम-इ होकर कर रहा आज वड्डी कंपनी मे जॉब कम्प्युटर

अभियंताका!

सपना लेके चल रहा कुछ और वड्डा कर दिखाने का,
ट्वेन्टी फोर बाय सेव्हन करता प्रयास अपने इस सपने को हकीकत बनाने का!

पाचोरा मे पला बडा भलेही करियर बनाने पूना चल पडा,
आज पूना का होकर भी अपने जल की मिट्टी का लगाव ना भूला!

तकनिकी लेव्हल पे तो उंदा होना हि है जो की ये इंजिनियर ही है,
पर उसके उपर जा ये एक बहोत अच्छे इन्सान का उदाहरण भी है!

बस चन्द सालों का सफर रहा है मेरा इसके जिंदगी मे आने के बाद का,
पर ये भी काफी रहा है मेरे लिये इस शक्स के अंदर का ओ इन्सान पढ पाने का!

कब भी कोई भी काम बोलो ये इधर उधर की बाते छोड डायरेक्त्त सोल्युशन ही देता,
सामनेवाले को 'भाई तू क्यूँ तक्लिफ ले रहा' वगैरा बोलणे का भी मौका नही देता!

बस दो मिनिट मिलने के लिये भी ये आठ दस किलोमीटर की रन आरामसे कर सकता,
ऐसी अपनी छोटी छोटी हरकतों में से अपनोके लिये खुदमे भरापडा प्यार दिखा देता!

अपनो के साथ हि अपनी प्यारी बीवी पे तो ये इतना प्यार करता,
कि उसे लेकर सेंकडो किलोमीटर की नाईट राईड पे चल पडता!

ऑफिस से छुट्टी लेणे के बहाणे कभी पैर कभी हाथ गले मे ले लेता,
बस उसी बहाणे परिवार के साथ रेह बाकी के काम भी निपटा देता!

अद्भुत प्रतिभा है इसमे बैठे बैठे जो मन मे आये उसपे शेर या कविता करणे की,
बस शादी के बाद जरा छूट सी गई है उसकी ओ आदत लिखणे की!

उम्मीद है कि तेरे जनमदिन के बहाणे मैने लिखे इन चार शब्दो के जवाब मे चार तेरे भी पढ पाऊ,
सुयोग, थने थारा बड्डे री शुभकामनाये मे मिताली ओरु अन्वी ने साथे लेऱ देऊ!

बीवी के भाई के संग दामाद का तो सबसे करीबी रिश्ता होता है,
बस खुशनसिब है ये पाव्हना जिसे तुझ जैसा मेव्हना मिला है!

प्रकटदिनाच्या अरबो खरबो शुभेच्छा मेव्हणे
सांगा या निमित्ताने केव्हा आणि कुठे भेटताय पाव्हण्यांना फॉर कार्यक्रम जेऊ घालणे? 

- With Love

- D For Darshan
 
 

Add comment

Security code
Refresh

Loading...
Loading...