Close

Happy New Year 2019!!

साल गया बात गई, बिती बातों का क्या है गम
साल नया बात नई, नये सपने फिर नई उमंग!

गया साल है बीती बात है, बिती बातों का क्या है गम
नया साल है नई बात है, नये सपने फिर नई उमंग!

खाई ठोकरोसे बीते साल मे, सिख लिये चले आगे हम 
मिली सफलता से पाया हमने, जदीद जझबा ताजा दम!

जो हुआ अच्छा हुआ, जो होगा यकीनन अच्छाही होगा 
आते साल के हर लमहेमे, इत्माद हमारा सच्चा होगा!

हर लेहजे का लिहाज कर हम, हर दिल जीत जायेंगे 
हमउम्रो के संग हम चलते बडो की इनायत पायेंगे!

ना ही अना का ठिकाणा रहेगा, लालच भी ना कही दिखेगा 
हर सेहेर का सुरज संग अपने, सुकुन की किरणे ले आयेगा!

बीते साल को अलविदा कर हम, साल नया अपनायेंगे 
बारा माह की इस नई मुद्दत को, मसर्र्त से पेश जायेंगे!

साल गया बात गई, बिती बातों का क्या है गम
साल नया बात नई, नये सपने फिर नई उमंग!

- D For Darshan

Happy New Year 2019!!  Boom!! 

Add comment

Security code
Refresh

Loading...
Loading...